Home लेटेस्ट न्यूज़ आज से शुरू हुई RBI की अहम बैठक, बढ़ सकती है आपकी EMI, रेपो रेट में बढ़ोतरी संभव

आज से शुरू हुई RBI की अहम बैठक, बढ़ सकती है आपकी EMI, रेपो रेट में बढ़ोतरी संभव

by Manika
आज से शुरू हुई आरबीआई की अहम बैठक, बढ़ सकती है आपकी EMI, रेपो रेट में बढ़ोतरी संभव

महंगाई एक ऐसी चीज़ है जोकि कम होने का नाम ही नहीं ले रही है। आम हो या खास हर किसी के लिए महंगाई एक सिरदर्द बनी हुई है। अब ऐसे में आरबीआई नए खास बैठक की है और इस बैठक के दौरान आपकी जेब पर भी इसका गहरा असर देखने को मिल सकता है। दरअसल आपको बता दें कि आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति की बैठक आज से शुरू होने वाली है।

इस बैठक में केंद्रीय बैंक नीतिगत फैसले भी करेगा। जिसका ऐलान 5 अगस्त को आरबीआई के गवर्नर शक्ति कांत दास भी करेंगे। कहा तो यह भी जा रहा है कि 3 से 5 अगस्त के बीच होने वाली इस अहम बैठक में आरबीआई रेपो रेट पर भी बढ़ोतरी कर सकती है। हालांकि इससे पहले हुई मौद्रिक नीति समिति की बैठक में भी आरबीआई की रेपो रेट पर बढ़ोतरी की गई थी हर 2 महीने पर होने वाली इस बैठक की शुरुआत आज से प्रारंभ हो गई है।

रेपो रेट में हो गई है बढ़ोतरी
बात अगर एक्सपर्ट की मानें तो रिजर्व बैंक रेट में 0.25 से 0.35 दी की बढ़ोतरी भी दर्ज कर सकता है। महंगाई दर लगातार कई महीनों से केंद्रीय बैंक के तरफ से ऊपर जा रही है। इस पर काबू पाने के लिए मौद्रिक नीति समिति की बैठक में रेपो रेट इजाफा करने का फैसला भी काफी अहम माना जा रहा है।

पिछली बार भी दर्ज हुई थी रेपो रेट में बढ़ोतरी
खुदरा महंगाई दर लगातार 60 फ़ीसदी से अधिक बनी हुई है अगर केंद्रीय बैंक रेपो रेट में बढ़ोतरी करने का ऐलान करते हैं तो बैंक लोन पर लगने वाले ब्याज दर में भी बढ़ोतरी संभव है रिजर्व बैंक ने मई में 0.40 पीस दी और जून में 0.50 भी उसी की बढ़ोतरी दर्ज की थी लगातार बढ़ोतरी के बाद रेपो रेट 4.90 फ़ीसदी तक पहुंच गया है।

एक नजर महंगाई दर पर भी
दरअसल जानकारी के लिए आपको बता दें कि जून के महीने में मुद्रास्फीति 7.01% रही थी। यह लगातार ऐसा छठवां मौका था जब महंगाई दर आरबीआई के तय लक्ष्य सीमा से ऊपर थी। जुलाई महीने के आंकड़े अभी भी आने हैं और मई के महीने में खुदरा महंगाई 7.04 फीसदी रही थी

अप्रैल के महीने की अगर बात करें तो अप्रैल में खुदरा महंगाई दर 7.77 फीस दी दर्ज की गई थी हाथ महंगाई दर जून में 7.75 फीसदी रही थी। तो वहीं मई के महीने में 7.97 की जीत दर्ज की गई है।

रिजर्व बैंक के अनुमान से काफी अधिक है महंगाई
दरअसल आपको बता दें कि आरबीआई ने 2022 और 2023 में महंगाई दर के अपने अनुमान को 5.7 फीसदी से बढ़ाकर 6.7 कर दिया है। सरकार ने आरबीआई को खुदरा मुद्रास्फीति को 4% पर 2% के मार्जिन के साथ रखने के लिए अनिवार्य किया था। आरबीआई ने खुदरा महंगाई का लक्ष्य रखा था।

Related Articles

Leave a Comment